काशी में आज धूमधाम से मनाया जा रहा महाशिवरात्रि का पर्व

  • Publish Date:
  • February 13, 2018 10:56 AM

देवो के देव महादेव को प्रसन्न करने के लिए किए जाने वाले व्रतों में महाशिवरात्रि सर्वोपरि है। इसे भारत समेत दुनिया भर में सनातनी उपवास -व्रत समेत रात्रि जागरण कर मनाते हैं। यह महापर्व फागुन चतुर्दशी को मनाया जाता है। इस बार फागुन कृष्ण चतुर्दशी तिथि 13 फरवरी को रात 10.22 बजे लग रही है जो 14-15 की मध्य रात्रि 12.17 बजे तक रहेगी। फागुन चतुर्दशी तिथि इस बार 13 14 दोनों ही दिन मध्य रात्रि में मिल रही है। ऐसे में महाशिवरात्रि दोनों ही दिन यानी 13 14 फरवरी को मनाई जाएगी।

हालांकि गणना और विधान अनुसार पहले दिन व्रत-विधान का अधिक मान है। श्रीकाशी विश्वनाथ दरबार समेत काशीवासी 13 को ही महाशिवरात्रि मना रहे हैं। इसकी रंगत एक दिन पहले सोमवार को ही काशी में निखर आई। काशी विद्वत परिषद के संगठन मंत्री ख्यात ज्योतिषाचार्य पं. ऋषि द्विवेदी के अनुसार जो लोग 13 को व्रत रहेंगे, वे पारन 14 को करेंगे। वहीं 14 को महाशिवरात्रि व्रत रखने वाले रात में ही पारन कर लेंगे। वैष्णव मतावलंबी उदयातिथि के इस पर्व को मनाते हैं, ऐसे में उनकी महाशिवरात्रि 14 को होगी।  देवो के देव महादेव को मानाने के लिए ये  दिन खाश माना जाता है

Related News